Article writing in Hindi कैसे करें – (5 Prooven pro tips)

0
66

दोस्तों यदि आप हिंदी भाषी हैं और आप चाहते हैं की Article writing in Hindi कैसे करें? तो आज मैं आपको best 5 prooven pro tips बताने जा रहा हूं जिसे मैं अपने हरेक ब्लॉगपोस्ट को लिखने के पहले करता हूं।

Article Writing In Hindi में खास भूमिका किसका होता हैं?

जैसे कि आप सभी जानते हैं कि किसी भी सर्च इंजन के फर्स्ट पेज पर रैंक होने के लिए सबसे पहले आपके कांटेक्ट में दम होना चाहिए।

इसलिए कहा जाता है की किसी को आर्टिकल के लिए content is the king होता है। इसीलिए पहले आप कॉन्टेंट पर ध्यान दे ताकि रैंकिंग फैक्टर सुधर सके और आप बेहद आसान तरीकों से किसी भी पोस्ट को रैंक करा सके।

ये सभी ट्रिक्स आपको जरूर अपनाना चाहिए ताकि आप भी अपने ब्लॉग को जल्द से जल्द गूगल के फर्स्ट पेज पर रैंक करा सके।

Article writing in Hindi कैसे करें – (5 Prooven pro tips)

दोस्तों आपको बता देना चाहता हूं आर्टिकल लिखना हर किसी के बस की बात नहीं है क्योंकि यह एक बेहद ही बोरिंग काम है जिसे बहुत कम लोग पसंद करते हैं।

मैं आपको डरा नहीं रहा, लेकिन यह बात सच है लेकिन कुछ लोग आर्टिकल लिखने के काफी शौकीन होते हैं उन्हें आर्टिकल लिखना और उसके साथ एक्सपेरिमेंट करना काफी पसंद होता है।

आज मैंने आर्टिकल उन लोगों के लिए लिख रहा हूं जिन्हें आर्टिकल लिखना और पढ़ना बेहद पसंद है।

How to write article in hindi?

दरअसल यदि आपके मातृभाषा हिंदी है या फिर आपको हिंदी बोलना आता है तो आपके लिए How To Write Article In Hindi काफी आसान हो सकता है।

शायद आपको मेरी यह बातें समझ नहीं आ रही होगी? लेकिन मैं आपको बता देना चाहता हूं आर्टिकल लिखना काफी आसान काम होता हैं लेकिन इसके लिए आपको कुछ तैयारियां जरूर करनी पड़ेगी जिससे आप बेहद ही आसान तरीकों से article in Hindi में लिख सकते हैं।

Hindi article writting ( 5 prooven pro tips)

दोस्तों जब हम छोटे थे तो पहले स्कूलों में निबंध लिखने को कहा जाता था और जो लोग अपना पैशन समझकर निबन्ध लिखते थे उनके लिए hindi article writting कोई बड़ी चीज नहीं है।

article writing in Hindi कैसे करें - (5 Prooven pro tips)

आइए जानते हैं hindi article writting के कुछ prooven tips जिसे आपको जरूर पढ़ना चाहिए।

1- Article user friendly होना चाहिए

  • हर हर कोई चाहता है कि वह कुछ भी गूगल पर सर्च करें तो उसे उसके मुताबिक उसका जवाब मिल जाए।
  • यदि कोई आपकी वेबसाइट आता है और कुछ यूनिक आर्टिकल पढ़ता है तो उसे आपकी वेबसाइट पर ट्रस्ट होना शुरू हो जाता हैं।
  • ज्यादा से ज्यादा अपने एक्सपीरिएंस को बताने की कोशिश करें ताकि यूजर्सको अपनापन महसूस हो सके।

2- Paragraph should be small

हमेशा कोशिश करिए कि आपके द्वारा बताए हुए हर एक जानकारी छोटे छोटे पैराग्राफ में हो जिससे यूजर्स को पढ़ने में आसानी रहे।

ज्यादा बड़ा पैराग्राफ यूजर्स को बोरिंग महसूस कराता है जिससे वह आपके आर्टिकल को पढ़ने में इंटरेस्ट नहीं लेगा।

छोटे पैराग्राफ में अधिक जानकारी देने से यूजर्स का टाइम भी बचता है और उनको जो जानकारी चाहिए और प्राप्त भी हो जाती है जिससे आपके आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर भी करेंगे।

आइए एक उदाहरण से समझते हैं-

यदि आपको 15 अगस्त पर निबंध लिखने को कहा जाए और आप बिना पैराग्राफ बदले हुए पूरा पेज भरकर लिखे और आपका दोस्त उसी निबंध को छोटे छोटे पैराग्राफ में लिखकर निकल जाए तो आपके दोस्त के निबंध को पढ़ना हर कोई उचित समझेगा।

इसका मतलब यह नहीं है कि आपका निबंध गलत और खराब है लेकिन इंसानों के दिमाग को जो अच्छा लगता है वही करता है शायद यही कारण है कि छोटे छोटे पैराग्राफ हर किसी व्यक्ति को पसंद आता है।

3- सवाल पूछिए – ask questions

अक्सर आपने देखा होगा कि जितने भी बड़े ब्लॉग है अधिकतर ब्लॉक में यूजर्स से सवाल पूछते हुए नजर आते हैं इससे उनको ढेर सारे फायदे होते हैं।

दुनिया में हर इंसान अपने आप में काबिले तारीफ होता है ऐसे में जब कोई आपसे सवाल पूछता है तो आप भी उसका जवाब देने से पीछे नहीं हटते।

यदि आपको उस सवाल का जवाब आता है तो आप जवाब जरूर देंगे ब्लॉगर्स को भी फायदा होता है और जो रिप्लाई करता है उससे भी लोग जाने पहचाने लगते हैं।

यदि आप एक ब्लॉगर है और आप सवाल पूछ रहे हैं लेकिन कोई यूजर्स उसका जवाब दे रहा है तो लोग उस यूजर्स को भी फॉलो करना शुरू कर देता है।

ऐसा करना चाहिए आपकी वेबसाइट का बाउंसररेट भी कम होता है और यूजर्स ज्यादा से ज्यादा टाइम आपकी वेबसाइट पर रहता है।

4- Heading को decorate करें

यदि आप एक अच्छे ब्लॉगर हैं तो आपको heading को सजाना या डेकोरेट करना जरूर पसंद होगा।

यूजर्स जब भी heading को कुछ अलग ढंग से देखता है तो उसे पढ़ने की कोशिश जरूर करता है।

एक एक्सपेरिमेंट के द्वारा पता चला है कि जब भी इंसान कुछ नया देखता है तो उसे जानने और समझने की कोशिश जरूर करता है ऐसे में आपका हेडिंग और टाइटल यूनिक होना चाहिए जिससे यूजर्स ज्यादा से ज्यादा पढ़ने की कोशिश करें।

5- hinglish का इस्तेमाल ज्यादा करे

जब भी आप कोई नया आर्टिकल लिखें तो उस आर्टिकल में उपयोग होने वाले अधिकतर वर्ड्स को आप हिंदी और इंग्लिश दोनों में बताएं ताकि यूजर्स को पढ़ने और समझने में दिक्कत न हो।

आइए एक उदाहरण से समझते हैं-

इंडिया के अधिकतर लोग हिंदी जानते हैं लेकिन कुछ words ऐसे होते हैं जिन्हें इंग्लिश में बताना ज्यादा मुनासिब होता है इसलिए यदि हम ऐसे वर्ड्स को इंग्लिश में बताएं तो यूजर्स को काफी आसानी हो जाती है।

6- Article में images का उपयोग जरूर करें

हर एक ब्लॉग को समझाने के लिए आपको इमेजेस3 का उपयोग जरूर करना चाहिए। Images यूजर्स को समझाने के लिए काफी आसान तरीका होता है।

जितना हो सके हरेक टॉपिक में image का उपयोग करें ताकि आपका आर्टिकल यूजर्स को पसंद आए।

7- Genuinue content publish करें

आप सभी ब्लॉगर से अनुरोध है कि आप जिस चीज को अच्छे ढंग से जानते हैं उस चीज का experience ले चुके हैं तो ही आप लोगों को उसके बारे में जानकारी दें ताकि सही जानकारी सही लोगों तक पहुंच सके।

यदि यूजर आपके ऊपर भरोसा करता है आपका दायित्व बनता है कि आप इनके हित के बारे में सोचें।

यदि आपका tech ब्लॉग है तो आपके द्वारा दी गई सभी जानकारियों का ज्यादा से ज्यादा proof बताएं ताकि यूजर्स आसानी से विश्वास कर सकें।

जितना हो सके आप source लिंक भी दें ताकि आपका भरोसा यूजर्स के साथ हमेशा बना रहे।

Conclusion

मैं उम्मीद करता हूं कि मेरे द्वारा दी गई जानकारी Article Writing In Hindi कैसे करें – (5 Prooven Pro Tips) आपको बेहद पसंद आई होगी।

इस आर्टिकल को रात में दोस्तों और रिलेटिव के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि उन्हें भी इस जानकारी से कुछ फायदा हो सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here